Jawani Ke Shahad

Jawani Ke Shahad Lyrics

Posted by

Jawani Ke Shahad Lyrics

हिती-चुकी बात
तोहरा काहें ना बुझाला हो
एड़ीया लगावला से
चाँद ना छुवाला हो

अरे हिती-चुकी बात
तोहरा काहें ना बुझाला हो
एड़ीया लगावला से
चाँद ना छुवाला हो

काँहे मोहब्बत के नापे ल कद
नापे ल कद, नापे ल कद

मुन्हे लागी जब जवानी के शहद
त मिजाज गदगद हो जाई
पार करे द तू आज सारा हद
त मिजाज गदगद हो जाई

बुझिलें तोहर चाल
तू बढ़ा आगे रास्ता धरा हो
चियल न करा काम
जाके कहीं अऊरी चरा हो

कब ले जोगा के ई देहिया निसेंट
खिसियात रहबु
जब ले ना बढियां से पहुंची करंट
भूक-भूकात रहबू

हम सेब कश्मीरी तू केरा के घवत
केरा के घवत, केरा के घवत

मुन्हे लागी जब जवानी के शहद
त मिजाज गदगद हो जाई
पार करे द तू आज सारा हद
त मिजाज गदगद हो जाई
[गदगद हो जाई, ई, गद हो जाई]

तोहरा नियन के हम
तीन नाही तेरह में राखिलें
गज़ब लिरिक्स कॉम
देखते निकल जाला दम
होंठ जब दांते दाबिलें

करा तू ट्राई हम बानी तैयार
ताहार वार खेलेला
पंवरे जे जानेला उहे नू ईयार
दरियाव हेलेला

अरे करे में डूबलें केतना मरद
केतना मरद, केतना मरद

मुन्हे लागी जब जवानी के शहद
त मिजाज गदगद हो जाई
पार करे द तू आज सारा हद
त मिजाज गदगद हो जाई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *